Badh Sahayata Rashi Yojana 2022

Badh Sahayata Rashi Yojana 2022: पशु राशि ₹90000 मिलेंगे ऐसे आवेदन करें?- Full Information

Badh Sahayata Rashi 2022:- अगर आप भी बाढ़ में मारे गए या बहे हुए जानवरों के नुकसान के मुआवजे के तौर पर 50 रुपये से लेकर 30 हजार रुपये तक की अनुदान राशि पाना चाहते हैं तो हमारा यह लेख सिर्फ आपके लिए है जिसमें हम आपको Badh Sahayata Rashi 2022 के बारे में पूरी जानकारी विस्तार पूर्वक से बतायेगे इस लिए इस आर्टिकल को आप पूरा जरुर पढ़े…..

आपको बता दें कि, बिहार में हर साल बाढ़ का प्रकोप होता है, जिससे न सिर्फ पशु पालने वाले किसानों की बल्कि किसान भाई-बहनों की फसलों का भी विनाश होता है, जिसके चलते किसानों को काफी आर्थिक नुकसान झेलना पड़ता है, लेकिन सरकार ने उनकी इस समस्या के लिए Badh Sahayata Rashi 2022 की शुरुआत की है, जिसके लिए हम इस लेख में जिसकी पूरी जानकारी प्रदान करेंगे,

अंत में, सभी आवेदक और पशुपालक इस लिंक पर सीधे क्लिक करके आवेदन कर सकते हैं – https://aapda.bih.nic.in/ और इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

Badh Sahayata Rashi Yojana 2022

Badh Sahayata Rashi 2022 – Overview

Name of the SchemeBadh Sahayata Rashi Yojana
Name of the StateBihar
Name of the ArticleBadh Sahayata Rashi 2022
 Type of ArticleSarkari Yojana
Who Can Apply?Only Bihar Farmers Can Apply
Mode of Application?Offline
Charges?Nil
Compansatation Amount?50 Rs to 30,000 Rs
Official WebsiteClick Here

Badh Sahayata Rashi 2022

इस लेख में हम बिहार राज्य के सभी पशुओं का स्वागत करेंगे – किसान भाइयों और बहनों को पालने के लिए, हम आपको बिहार में हर साल बाढ़ के कारण होने वाले जानवरों की क्षतिपूर्ति के लिए जारी किए जा रहे Badh Sahayata Rashi 2022 के बारे में विस्तार से बताएंगे।

आपको बता दें कि, Bihar Badh Sahayata Rashi 2022 के तहत सभी आवेदकों और पशु – पालक किसान भाइयों और बहनों को ऑफलाइन माध्यम से आवेदन करना होगा और यही कारण है कि हम आपको पूरी ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया की जानकारी विस्तार से प्रदान करेंगे ताकि आप सभी जल्द से जल्द आवेदन कर सकें।

अंत में, सभी आवेदक और पशुपालक इस लिंक पर सीधे क्लिक करके आवेदन कर सकते हैं – https://aapda.bih.nic.in/ और इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

किन पशुओं के नुकसान पर कितने रुपयो की मिलेगी क्षतिपूर्ति – Badh Sahayata Rashi 2022?

पशु का प्रकारराशि प्रति ईकाइ व पशुओं की अधिकतम अनुमान्य संख्या
दुग्धकारी पशु

    • गाय, भैंस, ऊंट , याक व मिथुन  आदि।
राशि प्रति ईका

  • 30,000

पशुओं की अधिकतम अनुमान्य संख्या

  • एक परिवा के अधिकतम 3 पशुओं को शामिल किया जायेगा।
दुग्धकारी पशु

    • बकरी, भेड़ व सुकर आदि
राशि प्रति ईकाइ

  • 3000

पशुओं की अधिकतम अनुमान्य संख्या

  • एक परिवार के अधिकतम 30 पशुओं को शामिल किया जायेगा।
भारवाही पशु

  • बैल , ऊंट व घोड़ा
राशि प्रति काइ

  • 25,000

पशुओं की अधिकतम अनुमान्य संख्या

  • एक परिवार के अधिकतम 3 पशुओं को शामिल किया जायेगा।
भारवाही पशु

  • बछड़ा खच्चर, टट्टू व गदहा
राशि प्रति ईकाइ

  • 16,000

पशुओं की अधिकम अनुमान्य संख्या

  • एक परिवार के अधिकतम 6 पशुओं को शामिल किया जायेगा।
पॉल्ट्रीराशि प्रति ईकाइ

  • 50

पशुओं की अधिकतम अनुमान्य संख्या

  • अधिकतम 5000

पशु का शव मिलने व ना मिलने पर कैसे आवेदन करें – Badh Sahayata Rashi 2022

आइए अब हम बिहार राज्य के अपने सभी पशुओं – पालने वाले किसान भाइयों और बहनों को पूरी आवेदन प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी प्रदान करते हैं, जो इस प्रकार है:-

पशु की मृत्यु होने के बाद यदि शव प्राप्त होने की स्थिति में, आवेदन प्रक्रिया –

  • Badh Sahayata Rashi 2022 के तहत  पशु की मृत्यु होने के बाद शव प्राप्त होने की स्थिति मे, सबसे पहले पशु – किसान द्धारा नजदीकी पशुचिकित्सा पदाधिकारी को सूचित करना होगा,
  • इसके बाद आपको  प्रपत्र – क ( आवेदन फॉर्म )  मिलेगा जिसे आपको ध्यान से भरना होगा और मांगे जाने वाले सभी दस्तावेजो को आवेदन फॉर्म  के अटैच करके  पशुचिकित्सा पदाधिकारी  के जमा करना होगा,
  • इसके बाद  पशुचिकित्सा पदाधिकारी महोदय  द्धारा  मृत पशु पोस्ट – मार्टम किया जायेगा और आपके आवेदन फॉर्म को अंचल – अधिकारी  के पास भेजा जायेगा और
  • अन्त में,  अंचल अधिकारी  अपने स्तर पर जरुरी कार्यवाही करके आगे की प्रक्रिय करेंगे।

पशु की मृत्यु होने के बाद यदि शव प्राप्त ना होने की स्थिति में, आवेदन प्रक्रिया –

  • इस स्थिति में, पशु – पालक द्धारा सबसे पहले  नजदीकी थाना  / पुलिस स्टेशन  में, पशु – क्षति  के संबंध मे,  केस / प्राथमिकी  को दर्ज करवाना होगा,
  • इसके बाद आपको अपने  स्थानीय मुखिया, पंचायत समिति सदस्य, जिला परिषद् सदस्य, सरपंच, पंच या फिर वार्ड – सदस्य के प्रपत्र – क ( आवेदन फॉर्म  ) प्राप्त करना होगा,
  • अब आपको  इस आवेदन फॉर्म  को ध्यान से भरना होगा,
  • मांगे जाने वाले सभी दस्तावेजो को स्व – सत्यापित करके आवेदन फॉर्म के साथ अटैच करना होगा औऱ  अपने  स्थानीय मुखिया, पंचायत समिति सदस्य, जिला परिषद् सदस्य, सरपंच, पंच या फिर वार्ड – सदस्य  के पास जमा करना होगा जिसके बाद वे आपके  आवेदन फॉर्म  को आगे कार्यवाही हेतु भेंजेगे,
  • अब आपके आवेदन फॉर्म व थाने में दर्ज आपके केस की अंचल अधिकारीक महोदय द्धारा जांच की जायेगी व जांच सही पाये जाने पर आपके आवेदन फॉर्म को जिला स्तर पर भेजा जायेगा,
  • इसके बाद आपके आवेदन की जांच जिला पदाधिकारी द्वारा की जाएगी और सब कुछ सही पाए जाने पर एक सप्ताह के भीतर 1 सप्ताह के भीतर अनुदान राशि आदि आपको उपलब्ध करा दी जाएगी।

अन्त में, इस प्रकार, हमारे सभी किसान भाई-बहन इस कल्याणकारी योजना में आवेदन कर सकते हैं और अपने जानवरों के नुकसान के लिए सरकार से मुआवजा प्राप्त कर सकते हैं और इसका पूरा लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

https://www.youtube.com/watch?v=7gs-3NZ-ykY

Important Link

Join Our Telegram GroupBadh Sahayata Rashi Yojana 2022: पशु राशि ₹90000 मिलेंगे ऐसे आवेदन करें?- Full InformationClick Here
Official WebsiteBadh Sahayata Rashi Yojana 2022: पशु राशि ₹90000 मिलेंगे ऐसे आवेदन करें?- Full InformationClick Here

FAQ’s – Badh Sahayata Rashi 2022

Q 1. बिहार बाढ़ सहायता योजना क्या है?

Ans:- बिहार के सभी नागरिकों को बाढ़ से हुई हानि के लिए सहायता राशि प्रदान करना है जिससे वह अपना जीवन यापन कर सकें|

Q 2. बिहार बाढ़ सहायता योजना राशि का लाभ किसे दिया जाएगा?

Ans:-  ऐसी सभी लोगों को बिहार बाढ़ सहायता योजना का लाभ दिया जाएगा जो बिहार बाढ़ प्रभावित क्षेत्र से है और जिनको जान माल का नुकसान हुआ है|

️Q 3.  इस बार बिहार बाढ़ राहत योजना का लाभ किन किन जिलों में मिलेगा ?

Ans:- फिलहाल Bihar Badh Rahat के तहत बिहार में कुल 12 जिलों का चयन किया गया है जो निम्नलिखित हैं :- सीतामढ़ी , शिवहर , सुपौल , किशनगंज , दरभंगा , मुजफ्फरपुर , गोपालगंज , खगड़िया ,सारण,समस्तीपुर, पूर्वी व पश्चिमी चंपारण ।

Q️ 4.  बिहार बाढ़ राहत के तहत सरकार के द्वारा कितना पैसा दिया जाएगा ?

Ans:- Bihar Badh Rahat के तहत बिहार बाढ़ ग्रसित क्षेत्र के बाढ़ पीड़ित परिवारों को ₹6000 प्रति परिवार दिया जाएगा साथ ही अलग से जान-माल , मकान , कपड़े , बर्तन की हानि होने पर भी पैसा दिया जाएगा जो कुछ इस प्रकार से है ।

  • बिहार बाढ़ प्रभावित परिवारों को ₹6000 का लाभ
  • कपड़ा का नुकसान होने पर 1800 रुपए
  • ₹2000 बर्तन के लिए
  • 6800 रुपए प्रति हेक्टेयर फसल के लिए
  • ₹30000 प्रति गाय , भैंस की छती होने पर